Monday, May 29, 2023
Homeउत्तराखंडगढ़वाल यूनिवर्सिटी के 5 छात्र करेंगे एस्टेरॉयड की खोज, प्रोग्राम के लिए...

गढ़वाल यूनिवर्सिटी के 5 छात्र करेंगे एस्टेरॉयड की खोज, प्रोग्राम के लिए हुआ चयन

spot_img

एस्टेरॉयड यानी क्षुद्र ग्रह। अंतरिक्ष की दुनिया के वो रहस्य जिन्हें लेकर जब-तब डराने वाली सूचनाएं मिलती रहती हैं। जो एस्टेरॉयड खतरनाक श्रेणी में होते हैं, वो धरती से टकराने पर भयानक परिणाम दे सकते हैं। एस्टेरॉयड के बारे में आज आपको इसलिए बता रहे हैं, क्योंकि अपने उत्तराखंड के 5 होनहार छात्रों को इनकी खोज के लिए चलाए जा रहे प्रोग्राम का हिस्सा बनने का मौका मिलने जा रहा है। यह कार्यक्रम पहली से 26 नवंबर तक आयोजित होगा। जिसमें गढ़वाल केंद्रीय विश्वविद्यालय के भौतिक विज्ञान विभाग के पांच छात्र हिस्सा लेंगे। यह जानकारी गढ़वाल विवि के वरिष्ठ भौतिक वैज्ञानिक डॉ. आलोक सागर गौतम ने दी। उन्होंने बताया कि यह कार्यक्रम राष्ट्रीय वैमानिकी और अंतरिक्ष प्रबंधन (नासा) समर्थित अंतरराष्ट्रीय खगोलीय खोज सहयोग कार्यक्रम के तहत क्षुद्र ग्रहों (एस्टेरॉयड) की खोज के लिए आयोजित किया जा रहा है।

जिसमें गढ़वाल यूनिवर्सिटी से चुने गए छात्र डॉ. आलोक सागर गौतम के नेतृत्व में पृथ्वी के पास स्थित ऑब्जेक्ट और मंगल तथा बृहस्पति ग्रह के मध्य क्षुद्र ग्रहों की खोज करेंगे। इसमें गढ़वाल विवि के शोध छात्रों को हिस्सा लेने का अवसर मिलेगा। जिन छात्रों का चयन हुआ है। उनमें शोध छात्र संजीव कुमार, कर्ण सिंह व परास्नातक के महावीर प्रसाद और शिवानी कुलासरी तथा स्नातक के प्रवीण कुमार शामिल हैं। डॉ. आलोक सागर गौतम ने बताया कि क्षुद्र ग्रह अंतरिक्ष के चट्टानी व वायुहीन सदस्य हैं। यह सूर्य की परिक्रमा करते हैं और इनका आकार ग्रहों से छोटा होता है। पृथ्वी के करीब के क्षुद्र ग्रहों को नियर-अर्थ ऑब्जेक्ट या नीओ कहा जाता है। गढ़वाल विश्वविद्यालय की टीम खगोल विज्ञान संस्थान (हवाई विश्वविद्यालय) की पैन-स्टार्स टेलिस्कोप से प्राप्त खगोलीय डेटा इमेजेस पर शोध कर क्षुद्र ग्रहों की खोज करेगी। नासा का यह कार्यक्रम संयुक्त राष्ट्रसंघ के सहयोग से संचालित स्पेस जेनेरेशन एडवाइजरी काउंसिल की ओर से पहली से 26 नवंबर तक आयोजित होगा।

Ankur Singh
Ankur Singh
Ankur Singh is an Indian Journalist, known as the Senior journalist of Hill Live
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

UKSSSC: समूह-ग की भर्तियां फिर शुरू करेगा आयोग, अध्यक्ष ने शासन को भेजा पत्र,...

0
पेपर लीक के सदमे से बाहर निकलकर पांच दिन के भीतर सचिवालय रक्षक पुर्नपरीक्षा का परिणाम जारी करने वाले उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग...

रुद्रप्रयाग में मौसम की मार से अस्पतालों में बढ़ने लगी भीड़, मुश्किल में चारधाम...

0
रुद्रप्रयाग: उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में लगातार बदल रहे मौसम ने पर्यटकों के साथ स्थानीय लोगों की परेशानियां भी बढ़ा दी है. सबसे ज्यादा...
The teacher had to fall in love with a minor girl, reached the lockup

छेड़छाड़ व अश्लील हरकतों से तंग आकर कई छात्राओं ने छोड़ा स्कूल, आरोपी प्रधानाध्यापक...

0
देहरादून में विकासखंड कालसी के राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय पानुवा में तैनात प्रधानाध्यापक द्वारा छात्राओं के साथ छेड़छाड़ एवं अश्लील हरकतें करने का मामला...
Mussoorie: A young man from Rudraprayag fell into a ditch while taking photographs on the Dhanaulti road, died on the spot

Mussoorie: धनोल्टी मार्ग पर फोटो खींचते समय खाई में गिरा रुद्रप्रयाग का युवक, मौके...

0
मसूरी-धनोल्टी मार्ग पर कपलानी के पास फोटो खींचते समय एक युवक अनियंत्रित होकर गहरी खाई में गिर गया। इस दौरान युवक की मौके पर...

उत्तराखंड में महिला प्रोफेसर खुदकुशी मामले की गूंज, क्या जुल्म और प्रताणना के प्रेशर...

0
पौड़ी गढ़वाल: एक बात तो तय है कि गोविंद बल्लभ पंत इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग टेक्नोलॉजी घुड़दौड़ी की असिस्टेंट प्रोफेसर मनीषा भट्ट की आत्महत्या कोई...
spot_img