Tuesday, November 29, 2022
Home देश सेना प्रमुख ने कश्मीर घाटी में सुरक्षा की समीक्षा की

सेना प्रमुख ने कश्मीर घाटी में सुरक्षा की समीक्षा की

सेना प्रमुख ने कश्मीर घाटी में सुरक्षा की समीक्षा की

श्रीनगर पहुंचने पर सेना प्रमुख ने सेना की उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल वाईके जोशी एवं चिनार कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डीपी पांडे के साथ घाटी के आंतरिक क्षेत्रों में स्थित सेना की युनिट्स और फॉर्मेशन्स का दौरा किया जहां उन्हें स्थानीय कमांडरों ने मौजूदा सुरक्षा स्थिति के बारे में तथा आतंकियों के मददगारों के नेटवर्क की पहचान कर उनके विरुद्ध उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी, आतंकियों के यह मददगार घाटी में युवाओं को कट्टरपंथ में लाने तथा आतंकवादी संगठनों में शामिल करवाने में शामिल हैं। स्थानीय भर्ती को रोकने और स्थानीय आतंकवादियों के आत्मसमर्पण को सुगम बनाने के प्रयासों पर भी चर्चा हुई।

सैनिकों के साथ बातचीत के दौरान सेना प्रमुख ने उन जवानों और कमांडरों की सराहना की जो पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद तथा वैश्विक महामारी की दोहरी चुनौतियों से लगातार जूझ रहे हैं। उन्होंने उभरती सुरक्षा चुनौतियों का प्रभावी ढंग से सामना करने के लिए तैयार रहने की जरूरत पर बल दिया। बाद में सेना प्रमुख को चिनार कोर कमांडर ने नियंत्रण रेखा और भीतरी इलाकों से संबंधित समग्र स्थिति के बारे में जानकारी दी।

सेना प्रमुख ने एक ‘संपूर्ण सरकार’ दृष्टिकोण अपनाने में नागरिक प्रशासन, जम्मू-कश्मीर पुलिस, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों और अन्य सुरक्षा एजेंसियों के सभी वर्गों द्वारा प्रदर्शित किए गए उत्कृष्ट तालमेल की सराहना की जिसके परिणामस्वरूप केंद्र शासित प्रदेश में विकास के एक नए युग को बढ़ावा देने के लिए सुरक्षा स्थिति में सुधार हुआ है।

शाम को सेना प्रमुख ने राजभवन में माननीय उपराज्यपाल श्री मनोज सिन्हा से मुलाकात की और जम्मू-कश्मीर में दीर्घकालिक शांति के लिए पैदा होने वाली चुनौतियों और रोड मैप पर चर्चा की। एलजी ने केंद्र शासित प्रदेश में शांति बहाली तथा शांति बनाए रखने में भारतीय सेना द्वारा निभाई गई भूमिका की तथा सेना द्वारा कोविड-19 महामारी से निपटने में सिविल अधिकारियों को प्रदान सहायता की सराहना की।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here