Saturday, December 3, 2022
Home उत्तराखंड रुद्रप्रयाग में पुल बहा, मूसलाधार बारिश से आपदा जैसे हालात

रुद्रप्रयाग में पुल बहा, मूसलाधार बारिश से आपदा जैसे हालात

गढ़वाल और कुमाऊं के पहाड़ी इलाकों में मूसलाधार बारिश से तबाही का कहर नजर आने लगा है. हर जिले से डरी हुई तस्वीरें सामने आ रही हैं. राज्य में पिंडर, अलकनंदा, मंदाकिनी, भागीरथी और रिपाना जैसी नदियां उफान पर हैं। मौसम विभाग ने कहा है कि पहाड़ी जिलों में छोटी नदियों और नालों के पास रहने वाले लोगों को सावधान रहने की जरूरत है.

रुद्रप्रयाग से चमोली और हरिद्वार के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है। इसी बीच रुद्रप्रयाग जिले से एक खबर आ रही है। यहां जगवारी बाईपास पर बना पुल बह गया है। एसडीएम रुद्रप्रयाग बृजेश तिवारी ने इसकी पुष्टि की। यहां नदी का जलस्तर भयावह तरीके से बढ़ा है

अलकनंदा और मंदाकिनी खतरे के निशान से ऊपर

रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय में अलकनंदा और मंदाकिनी खतरे के निशान को पार कर चुकी है. अलकनंदा नदी 627 और मंदाकिनी नदी 626 मीटर पर बह रही है, जो मूल बहाव से दो मीटर ऊपर है। लगातार हो रही बारिश को देखते हुए जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है। रुद्रप्रयाग के साथ टिहरी जिला प्रशासन भी अलर्ट मोड पर है।

श्रीनगर में अलकनंदा नदी का जलस्तर भी बढ़ गया है। बढ़ते जलस्तर और नदी में आने वाले मलबे को देखते हुए श्रीनगर जलविद्युत परियोजना की झील से पानी छोड़ा गया। श्रीनगर में शुक्रवार को दिन भर जलस्तर कम हो गया और कई बार जलस्तर चेतावनी के स्तर को पार कर गया। कीर्तिनगर में संवेदनशील स्थानों को खाली करा लिया गया है।

ऋषिकेश में गंगा नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। चमोली के रामणी गांव में लोगों के घरों में पानी घुसने की खबर आ रही है,  जिससे पूरे दिन अफरा-तफरी मची रही। मलबा आने से बदरीनाथ हाईवे बेनाकुली बैंड, लामबगड़, गुलाबकोटी और रड़ांग बैंड के समीप बंद हो गया है।

वहीं हेलंग-उर्गम सड़क भी जल विद्युत परियोजना हेलंग के समीप भूस्खलन होने से करीब बीस मीटर तक क्षतिग्रस्त हो गई है,  जिससे ग्रामीणों का आवागमन ठप हो गया है. मलबे के कारण जिले की 32 सड़कें बंद हैं। ऋषिकेश और हरिद्वार में थोड़ी सी भी रात से गंगा का जलस्तर दहशत में आ गया है। वहीं कुमाऊं में धौली और काली नदी का जलस्तर और बढ़ गया है। राज्य नियंत्रण कक्ष से सभी जिलों के लिए अलर्ट जारी कर दिया गया है।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here