Saturday, December 3, 2022
Home उत्तराखंड नरेंद्रनगर ब्लॉक के मौण गांव की बेटी बनी सेना में अफसर

नरेंद्रनगर ब्लॉक के मौण गांव की बेटी बनी सेना में अफसर

उत्तराखंड एक सैन्य बहुल राज्य है। यहां बेटे ही नहीं बेटियां भी सेना में अफसर बनकर राज्य का मान बढ़ा रही हैं। सूबे की गौरवशाली सैन्य परंपरा को आगे बढ़ाते हुए। चंबा की रहने वाली मनीषा तड़ियाल एक ऐसी होनहार लड़की हैं, जिन्होंने भारतीय सेना की मेडिकल कोर में लेफ्टिनेंट बनकर उत्तराखंड को गौरवान्वित किया है। मनीषा नरेंद्रनगर ब्लॉक के मौण गांव की रहने वाली हैं।

लेफ्टिनेंट मनीषा की सफलता पर परिवार और रिश्तेदारों सहित पूरे गांव में खुशी का माहौल है। कड़ी मेहनत से ट्रेनिंग पूरी कर चुकी मनीषा को दिल्ली के आर्मी हॉस्पिटल में तैनात किया गया है। मनीषा हमेशा से सेना में भर्ती होकर देश की सेवा करना चाहती थीं। इस सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने कड़ी मेहनत की। उन्होंने 12वीं तक की पढ़ाई राजकीय बालिका इंटर कॉलेज चंबा से की। इसके बाद हिमालयन कॉलेज ऑफ नर्सिंग से बीएससी नर्सिंग की डिग्री पूरी की।

पढ़ाई पूरी करने के बाद मनीषा के पास नौकरी के कई विकल्प थे, लेकिन वह केवल सेना में भर्ती होना चाहती थीं। इसलिए मनीषा ने दूसरा विकल्प छोड़कर सेना को करियर के तौर पर चुना। कड़ी मेहनत के दम पर मनीषा अपने सपने को साकार करने में कामयाब रही। लेफ्टिनेंट मनीषा के पिता गंभीर सिंह ताडियाल उद्योग निदेशालय देहरादून में कार्यरत हैं।

उन्हें अपनी बेटी की सफलता पर बहुत गर्व है। उन्होंने कहा कि मनीषा बचपन से ही आर्मी में ऑफिसर बनना चाहती थीं, इसके लिए उन्होंने काफी मेहनत की। अब मनीषा सेना में अपनी सेवाएं देकर देश की सेवा करेंगी। किसी भी माता-पिता के लिए इससे ज्यादा गर्व की बात और क्या हो सकती है कि उनकी बेटी देश और समाज के लिए उपयोगी होती है। स्टेट रिव्यू टीम की ओर से लेफ्टिनेंट मनीषा तड़ियाल को बहुत-बहुत बधाई। उनकी सफलता का सफर यूं ही जारी रहे, हम यही कामना करते हैं।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here