Sunday, November 27, 2022
Home उत्तराखंड देहरादून : अस्पताल पर नवजात शिशु बेचने का आरोप

देहरादून : अस्पताल पर नवजात शिशु बेचने का आरोप

देहरादून में दुष्कर्म पीड़ित नाबालिग की बच्ची को बेचने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां दुष्कर्म पीड़ित नाबालिग ने शहर के एक अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया. एक समाचार रिपोर्ट के अनुसार बताया जा रहा है कि अस्पताल प्रबंधन ने कागजों में हेराफेरी कर नाबालिग के बच्चे को किसी और को बता दिया।

फर्जी तरीके से बच्चे के माता-पिता का नाम दस्तावेजों में गलत तरीके से दर्ज किया गया था। आरोप है कि प्रसव के बाद अस्पताल ने मसूरी के एक दंपति को बच्चे को सौंप दिया. एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट को मामले में बच्चे की खरीद-फरोख्त का शक है। दंपति ने किस इरादे से बच्चे को अपने पास रखा, इसकी भी जांच की जा रही है। साथ ही अस्पताल संचालक और बच्ची के पिता के खिलाफ दस्तावेज में फर्जीवाड़े का मामला दर्ज किया गया है।

चूंकि नाबालिग दुष्कर्म पीड़ित है, इसलिए आरोपी के खिलाफ पोस्को की धाराओं के तहत मामला भी दर्ज किया गया है. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि जिला बाल कल्याण समिति की सूचना पर नवजात शिशु के खरीद-फरोख्त का मामला संज्ञान में आया है।

पुलिस ने कमेटी की शिकायत पर जांच शुरू की तो पता चला कि बच्ची को जन्म देने वाली लड़की नाबालिग है. 17 साल की नाबालिग के साथ एक लड़के ने दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के बाद जब बच्ची गर्भवती हुई तो उसे रिंग रोड स्थित रुद्राक्ष अस्पताल में प्रसव कराया गया।

आरोप है कि प्रसव के दौरान ही दुष्कर्म पीड़िता की बच्ची को किसी और को सौंपने की तैयारी की गई थी। अस्पताल प्रशासन ने भी मिलीभगत से बच्चे को मसूरी इलाके के एक दंपति को दिखाया और बच्चे के जन्म प्रमाण पत्र के लिए दस्तावेज भेजे। वहीं जब मामले की जांच शुरू हुई तो शिकायत सही निकली। अब पुलिस ने बच्ची के पिता और अस्पताल संचालक के खिलाफ पॉक्सो समेत अन्य संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।

मुकदमे में अस्पताल के दीपक कुमार और डॉ. मानवी को आरोपी बनाया गया है. मानव तस्करी रोधी इकाई को मामले में नवजात शिशुओं की बिक्री का संदेह है। इसलिए नवजात बच्चे को अपना बताने वाले दंपत्ति से भी पूछताछ की जा रही है।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here