Tuesday, December 6, 2022
Home चमोली चमोली जिले में तबाही मचा सकते हैं ग्लेशियर, आईटीबीपी और एसडीआरएफ अलर्ट,...

चमोली जिले में तबाही मचा सकते हैं ग्लेशियर, आईटीबीपी और एसडीआरएफ अलर्ट, निगरानी के निर्देश

चमोली जिले में एक बार फिर से खतरे के संकेत दिखाई दे रहे हैं।  रैनी गांव में 7 फरवरी को आई आपदा के बाद इसी इलाके में बने ग्लेशियर में भी दरारें नजर आ रही हैं। ऋषि गंगा के उद्गम क्षेत्र के ग्लेशियर में दरारें देखने के बाद ग्रामीणों ने इसकी सूचना जिला प्रशासन को दी और सूचना पर जिला प्रशासन ने आईटीबीपी और एसडीआरएफ को अलर्ट कर निगरानी के निर्देश दिए हैं।

आपदा प्रभावित क्षेत्र के ग्लेशियर में दरारें दिखना चिंताजनक है, जिसके बाद जिला प्रशासन भी सतर्क हो गया है. अनहोनी की आशंका के बाद फोर्स को पूरे इलाके में अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं। ग्रामीणों ने बताया कि ऋषि गंगा का उद्गम स्थल जहां 7 फरवरी को चमोली जिले में आपदा आई थी, वहां फिर से ग्लेशियर में दरारें आ गई हैं, इसलिए यहां अनहोनी होने की आशंका है।

कुछ दिन पहले ग्रामीण ग्लेशियर क्षेत्र का दौरा करने गए थे और तभी उन्हें ग्लेशियर में दरारें दिखाई दीं, जिसके बाद उन्होंने बिना देर किए पूरे मामले की जानकारी प्रशासन को दी। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदकिशोर जोशी का कहना है कि एनडीआरएफ की टीम और आईटीबीपी की टीम को इलाके में अलर्ट कर दिया गया है।

डीएम स्वाति एस भदौरिया का कहना है कि आईटीबीपी के अधिकारियों को लगातार इलाके पर नजर रखने के निर्देश दिए गए हैं और आपदा के बाद से एनडीआरएफ की टीम को इलाके में तैनात कर दिया गया है। डीएम ने कहा कि ग्रामीण ऋषिगंगा के उद्गम स्थल के पास ग्लेशियर में दरार की आशंका जता रहे हैं जिसके बाद टीम को प्रभावित क्षेत्र में भेज दिया गया है और टीम की जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here