Saturday, December 3, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड में कानून व्यवस्था का गजब हाल है..6 साल पहले हुई ठगी,...

उत्तराखंड में कानून व्यवस्था का गजब हाल है..6 साल पहले हुई ठगी, मुकदमा अब दर्ज हुआ

राज्य बनने के दो दशक के बाद भी पुलिस व्यवस्था जस की तस ही है। पुलिस अधिकारियों की लापरवाही कम होने का नाम नहीं ले रही है। एक न्यूज रिपोर्ट के मुताबिक देहरादून में 6 साल पहले 3 लाख की ठगी हुई थी और 6 साल पहले की ठगी का मुकदमा अब जाकर दर्ज हुआ है। पीड़ित ने बताया कि पुलिस थाने के कई चक्कर काटने के बावजूद भी पुलिस कर्मचारियों ने ठगी का मामला दर्ज नहीं किया।

वो तो भला हो डीजीपी अशोक कुमार का, जिनकी बात से प्रभावित होकर पीड़ि‍त ने पुलिस मुख्यालय व सीएम पोर्टल पर शिकायत दर्ज करवाई, जिसके बाद पटेलनगर कोतवाली पुलिस ने मंगलवार को मुकदमा दर्ज किया है। जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक कि 6 साल पहले देहरादून के युवक के साथ नौकरी लगाने के नाम पर कुछ शातिर ठगों ने 3 लाख की ठगी की थी। पुलिस ने 6 साल के बाद ठगी का मुकदमा दर्ज किया है। 6 साल तक पीड़ित पुलिस एवं चौकियों के चक्कर काटता रहा मगर किसी ने मुकदमा दर्ज नहीं किया। जब यह शिकायत पुलिस महानिदेशक के पास पहुंची तब जाकर पटेल नगर कोतवाली पुलिस ने 6 साल के बाद ठगी का मुकदमा दर्ज किया है।

जेपी विद्या मंदिर जोशीमठ में संगीत अध्यापक यशवंत सिंह ने बताया कि 2015 में उनको कुछ लोगों ने सरकारी नौकरी लगाने की एवज में 3 लाख रुपयों की मांग की थी और वह उनके झांसे में आ गए और उन्होंने धीरे-धीरे करके उनको 3 लाख रुपए दे दिए। यशवंत ने बताया कि 3 लाख रुपए देने के बावजूद भी उन लोगों ने उसकी नौकरी नहीं लगाई जिसके बाद उन्होंने पुलिस निरीक्षक चमोली से इसकी शिकायत की।

शिकायत के बावजूद इस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई और पुलिस ने इस मामले को सीरियसली नहीं लिया। 12 जनवरी 2020 को पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार के कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि अगर कोई भी ठगी की शिकायत हो तो वह निसंकोच पुलिस शिकायत कर सकते हैं जिसके बाद पीड़ित ने पुलिस मुख्यालय एवं सीएम पोर्टल पर 6 साल के बाद ठगी की शिकायत दर्ज कराई और पटेल नगर कोतवाली पुलिस ने बीते मंगलवार को आखिरकार मुकदमा दर्ज किया। इंस्पेक्टर पटेलनगर कोतवाली प्रदीप राणा ने जानकारी देते हुए बताया है कि तीनों आरोपी देवेश चौहान, मकान लाल और संदीप पाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया गया है और पुलिस तीनों आरोपियों की खोजबीन कर रही है।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here