भातीय नौसेना में अफसर बनी नैनिका रौतेला, पूरा किया पिता का सपना

Ankur Singh

नैनीताल की रहने वाली नैनिका रौतेला पहाड़ की ऐसी ही एक होनहार बेटी हैं। नानिका को भारतीय नौसेना में सब लेफ्टिनेंट के रूप में चुना गया है। अब वह भारतीय नौसेना का हिस्सा बनकर देश की सेवा करेंगी। शुक्रवार को घोषित परिणाम में नैनिका रौतेला के सब-लेफ्टिनेंट के रूप में चयन से शहर के लोग गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं।

पहाड़ी इलाके की रहने वाली नैनिका ने बचपन से ही पढ़ाई में टॉप किया था। उन्होंने मोहन लाल साह बाल विद्या मंदिर से छठी कक्षा तक पढ़ाई की। बाद में सेंट मैरी से इंटर किया। स्कूली शिक्षा के बाद, उन्होंने इंजीनियरिंग कॉलेज रुड़की में प्रवेश लिया और इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त की। वर्तमान में, नानिका बहुराष्ट्रीय कंपनी एसेंसर गुड़गांव में Google के लिए एक इंजीनियर के रूप में कार्यरत हैं।

नैनिका अपनी उपलब्धि का श्रेय अपने माता-पिता के मार्गदर्शन और अनुशासन को देती हैं। उन्हें ट्रेनिंग के लिए 27 जून को केरल पहुंचना है। नैनिका के पिता रामसिंह रौतेला नैनीताल जिला अदालत और उत्तराखंड उच्च न्यायालय में वकालत करते हैं। मां डॉ. बसंती रौतेला मोहनलाल साह इंटर कॉलेज में प्रवक्ता हैं. दोनों को भारतीय नौसेना में बेटी के चयन पर बेहद गर्व है। एडवोकेट राम सिंह रौतेला का कहना है कि वह खुद भारतीय सेना का हिस्सा बनना चाहते थे।

उन्होंने सेना के अलावा कभी किसी सरकारी नौकरी के लिए आवेदन नहीं किया, लेकिन बहुत कोशिशों के बाद भी वे सेना का हिस्सा नहीं बन पाए। अब बेटी नैनिका ने नेवी में ऑफिसर बनकर अपने 28-30 साल पुराने सपने को पूरा किया है। होनहार नैनिका की सफलता पहाड़ की अन्य बेटियों को भी आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करेगी।

Share This Article
Follow:
Ankur Singh is an Indian Journalist, known as the Senior journalist of Hill Live
Leave a comment