Saturday, December 3, 2022
Home उत्तराखंड कैबिनेट मंत्रियों के चयन की दौड़ तेज, बंशीधर भगत सहित इन विधायकों...

कैबिनेट मंत्रियों के चयन की दौड़ तेज, बंशीधर भगत सहित इन विधायकों के बीच रेस

भाजपा के पूरे बहुमत के साथ चुनाव जीतने के साथ ही मुख्यमंत्री व कैबिनेट मंत्रियों के चयन की दौड़ तेज हो गई है। नए मंत्रिमंडल में कुमाऊं से चार से पांच विधायकों के कैबिनेट में शामिल होने की उम्मीद है।

इसमें नैनीताल से बंशीधर भगत, पिथौरागढ़ से बिशन सिंह चुफाल व अल्मोड़ा से रेखा आर्या को चुनाव में जीत के साथ ही बड़ी जिम्मेदारी मिलने की उम्मीद है। कैबिनेट में कुमाऊं की स्थिति का यदि आंकलन किया जाए तो पुष्कर धामी सरकार में बंशीधर भगत, बिशन सिंह चुफाल, रेखा आर्या समेत पांच को कैबिनेट में जगह मिली थी।

कुमाऊं से बंशीधर भगत व बिशन सिंह चुफाल जैसे दो दिग्गज मंत्रियों व सोमेश्वर से मंत्री रेखा आर्या के फिर से चुनाव जीतकर विधानसभा में जाने के कारण तीनों की कैबिनेट की दौड़ में बड़ी दावेदारी मानी जा रही है। भाजपा के वरिष्ठ सूत्रों की मानें तो पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा की चुनाव के दौरान कुमाऊं व गढ़वाल में रही सक्रियता को देखते हुए लगातार दूसरी बार चुनाव जीते उनके पुत्र सौरभ बहुगुणा को भी कैबिनेट में मंत्री पद मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।

साथ ही महाराष्ट्र के राज्यपाल व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी की करीबी माने जाने वाले कपकोट से विधायक बने सुरेश गड़िया के भी कैबिनेट में शामिल होने की संभावना व्यक्त की जा रही है।
उम्मीद है कि यदि कैबिनेट में महिला विधायकों की संख्या में इजाफा हुआ तो नैनीताल से दूसरी बार विधायक बनीं सरिता आर्य को भी कैबिनेट में जगह मिल सकती है।

इसी तरह से कुमाऊं से वर्तमान में केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री अजय भटट् व वर्तमान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नाम भी नए सीएम की दौड़ में शामिल हैं। इस स्थिति में यदि कुमाऊं की झोली में मुख्यमंत्री का पद जाता है तो प्रदेश अध्यक्ष का पद फिर से गढ़वाल के हिस्से जाएगा।

अरविंद पांडे का बढ़ सकता है कद
गदरपुर विस सीट से दूसरी बार जीत दर्ज करने वाले कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडे का भी कद बढ़ सकता है। शिक्षा, पंचायतीराज व खेल मंत्रालय का जिम्मा संभालने वाले पांडे ने शिक्षा मंत्री रहते हुए जीत दर्ज कर शिक्षा मंत्री के चुनाव हारने के मिथक को तोड़ा है। संघ व पार्टी नेताओं में मजबूत पकड़ रखने वाले पांडे का इस बार कद बढ़ने की उम्मीद है।

पर्यवेक्षकों के दून पहुंचने के बाद ही विधायक दल की बैठक होगी। इसमें सीएम की घोषणा की जाएगी। सीएम अपने विवेक व पार्टी नेतृत्व की राय पर कैबिनेट की घोषणा करेंगे।
सुरेश भट्ट, प्रदेश महामंत्री भाजपा।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here