….तो क्या उत्तराखंड को मिलेगी पहली महिला मुख्यमंत्री? क्या इतिहास रचने जा रही हैं ऋतु खंडूरी?

Ankur Singh

पौड़ी गढ़वाल: उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी इतिहास रच कर दोबारा सत्ता में वापस लौटी है और इसी के साथ विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा की जीत के बाद उत्तराखंड में अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इसपर तमाम सवाल उठना शुरू हो गए हैं। जहां एक ओर कई युवा चेहरे हैं तो वहीं अनुभवी चेहरे को भी उत्तराखंड का अगला सीएम बनाने को लेकर पार्टी हाईकमान में मंथन शुरू हो गया है। मगर इसी बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है। मुख्यमंत्री के लिए पूर्व सीएम भुवन चंद्र खंडूड़ी की बेटी और कोटद्वार विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी ऋतु खंडूड़ी का नाम भी आगे आ रहा है।

जी हां, शनिवार को भाजपा प्रदेश कार्यालय में बीजेपी की महिला कार्यकर्ताओं ने ऋतु खंडूड़ी को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की है। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि उत्तराखंड का अगला मुख्यमंत्री क्या कोई महिला विधायक बनेगी? दरअसल आज भाजपा प्रदेश कार्यालय में महिला कार्यकर्ताओं ने कोटद्वार विधायक और पूर्व सीएम भुवन चंद्र खंडूड़ी की बेटी ऋतु खंडूरी के नाम पर जमकर नारे लगाकर उन्हें प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री बनाने की मांग भी कर डाली। ऐसे में अब यह देखना मजेदार होगा कि क्या प्रदेश की कमान इस बार भाजपा किसी महिला विधायक के हाथों में सौंप कर इतिहास रच डालती है या नहीं? कोटद्वार सीट से प्रचंड जीत हासिल करने वाली भाजपा की विजयी प्रत्याशी ऋतु खंडूड़ी आज सुबह भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पहुंचीं।

उनके भाजपा मुख्यालय पहुंचने पर महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं ने ढोल बजाकर जोरदार स्वागत किया। इसके साथ ही महिला मोर्चा ने ऋतु खंडूड़ी को पगड़ी पहनाकर उनका अभिनंदन भी किया। मुख्यमंत्री बनाए जाने के सवाल पर ऋतु खंडूरी का कहना है कि वह पार्टी की सिर्फ कार्यकर्ता हैं और हाईकमान के सभी फैसलों का सम्मान करती हैं।

उत्तराखंड के पूर्व सीएम भुवन चंद्र खंडूड़ी की बेटी ऋतु खंडूड़ी ने वर्ष 2017 में अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की और 2017 विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें यमकेश्वर सीट से उतारा और उन्होंने भारी बहुमत से जीत दर्ज की। इस बार भी चुनावों में उन्होंने ऐतिहासिक जीत हासिल की है। कोटद्वार विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी ऋतु ने कांग्रेस पूर्व सुरेंद्र सिंह नेगी को चुनाव 2022 में करारी मात दी। विधानसभा चुनावों में ऋतु खंडूड़ी को भाजपा ने अंतिम क्षणों में यमकेश्वर से हटाकर कोटद्वार सीट से प्रत्याशी बनाया था। खंडूड़ी को इस बार 32,103 वोट मिले हैं जबकि पूर्व कैबिनेट मंत्री नेगी 28,416 मतों से आगे न बढ़ सके। वोटिंग प्रतिशत की बात करें तो ऋतु को 41 फीसदी वोट पड़े हैं, जबकि नेगी के खाते में सिर्फ 36 प्रतिशत वोट आए हैं।

ऋतु खंडूड़ी की शानदार जीत के बाद अब उनको महिला कार्यकर्ताओं द्वारा मुख्यमंत्री बनाने की मांग की जा रही है। आज सुबह से ही महिला कार्यकर्ताओं द्वारा उनके नाम के नारे लगाए जा रहे हैं। वहीं कार्यकर्ताओं द्वारा उन्हें मुख्यमंत्री बनाने की मांग पर ऋतु खंडूड़ी ने कहा कि यह संगठन का निर्णय है। पार्टी जिसे भी सीएम के लिए चुनेगी, उसका पूरी महिला मोर्चा स्वागत करेगी। उन्होंने कहा कि वो पार्टी की सामान्य कार्यकर्ता हैं।

वह अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन कर रही हैं और सदैव करती रहेंगी। इस मौके पर ऋतु खंडूड़ी ने कहा कि महिला मोर्चा ने जिस प्रकार से विधानसभा चुनाव में मतदाताओं को बूथ तक पहुंचाया और उनके बाद पीएम नरेंद्र मोदी की नीतियों को जनता तक पहुंचाकर पार्टी को ऐतिहासिक जीत दिलाई है, इसके लिए वह अपनी सभी कार्यकर्ताओं का धन्यवाद करती हैं। तो वहीं भाजपा महिला मोर्चा की पदाधिकारियों का कहना है कि जब भाजपा की महिला 10 से 15 दिन के भीतर चुनाव लड़ सकती हैं, तो वह प्रदेश का नेतृत्व भी बखूबी कर सकती हैं।

भाजपा महिला मोर्चा ने हाईकमान से मांग कि है कि ऋतु खंडूड़ी को इस बार सीएम बनाया जाए जिससे कि महिलाओं को भी नेतृत्व मिल सके और उत्तराखंड से नारी सशक्तिकरण का संदेश भी जा सके। अब उत्तराखंड में अगला सीएम कौन बनेगा यह तो वक्त ही बताएगा मगर यह तो तय है कि अगर इस बार भाजपा किसी महिला विधायक को मुख्यमंत्री बनाती है तो भाजपा उत्तराखंड की राजनीति के इतिहास के पन्नों में एक नई कहानी रच देगी।

 

 

 

Share This Article
Follow:
Ankur Singh is an Indian Journalist, known as the Senior journalist of Hill Live
Leave a comment