Tuesday, November 29, 2022
Home उत्तराखंड गढ़वाल में ऐसे DM भी है, रात में लालटेन के सहारे गांव...

गढ़वाल में ऐसे DM भी है, रात में लालटेन के सहारे गांव पंहुचे, लापरवाह अफसरों को हड़काया

गढ़वाल में ऐसे DM भी है, रात में लालटेन के सहारे गांव पंहुचे, लापरवाह अफसरों को हड़काया

अधिकारी जनता की सेवा के लिए होते हैं, लेकिन आज भी आम लोग बड़े अधिकारियों से मिलने से डरते हैं, उनके रौब और रुतबे से घबराते हैं। निश्चित रूप से यह एक बड़ी समस्या है, क्योंकि जब तक कोई अधिकारी जनता के करीब नहीं पहुंचेगा, वह ग्रामीणों की दुर्दशा को कैसे समझेगा. अफसरों की छवि तो कुछ ऐसी होती है, लेकिन कुछ अफसर ऐसे भी होते हैं जो दफ्तर का मोह छोड़ वाकई जनता की सेवा में जुटे हुए हैं।

ऐसे ही एक अधिकारी हैं पौड़ी गढ़वाल के डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदांडे हाल ही में देर रात लालटेन के सहारे कलजीखाल प्रखंड के असगढ़ गांव पहुंचे डीएम ने वहां हो रहे विकास कार्यों का जायजा लिया. डीएम को अपने बीच पाकर ग्रामीण खुश और हैरान थे, लेकिन उन्हें अच्छा लगा कि कोई उनका हालचाल पूछने आया।

इस दौरान डीएम ने ग्रामीणों की समस्याएं भी सुनीं। ग्रामीणों ने बताया कि पहली बार कोई जिलाधिकारी देर रात गांव के विकास कार्यों का निरीक्षण करने पहुंचे हैं. दरअसल, पौड़ी के कलजीखाल प्रखंड के मलेथा, बुंगा और असगढ़ गांवों में इन दिनों ‘जल जीवन मिशन’ के तहत काम चल रहा है. डीएम जोगदांडे इनका जायजा लेने गांव पहुंचे थे. गांव में रोशनी नहीं थी, ऐसे में लालटेन के सहारे रास्ता तय कर डीएम ग्रामीणों के बीच पहुंचे. वहां उन्होंने ग्रामीणों से करीब 2 घंटे तक बात की।

उन्होंने वर्मी कम्पोस्ट, सामुदायिक शौचालय और सड़कों का जायजा लिया। जहां अधिकारियों की लापरवाही पाई गई वहीं अधिकारियों की भी खबर ली गई। डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदांडे को अपने बीच देखकर ग्रामीण भी खुश हो गए। उन्होंने कहा कि पहाड़ी के हर जिले में एक ऐसा जिलाधिकारी होना चाहिए. गांव का विकास होगा तभी जिले का विकास होगा। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को भी गांव की समस्या बताई, जिस पर डीएम ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया.

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here