Saturday, December 3, 2022
Home उत्तराखंड चटक धूप में बोर्ड परीक्षा देने के लिए 3 से 7 किमी...

चटक धूप में बोर्ड परीक्षा देने के लिए 3 से 7 किमी पैदल नाप रहे परीक्षार्थी

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा के लिए कई छात्र-छात्राओं को कई किमी पैदल नापना पड़ रहा है। अभिभावकों ने विभागीय व्यवस्था के प्रति रोष जताया है।

जनपद में परीक्षा के संचालन के लिए इस बार 69 केंद्र बनाए गए हैं, जिसमें कई केंद्रों तक पहुंचने के लिए परीक्षार्थियों को 5 से 7 किमी एक तरफा पैदल नापना पड़ रहा है। बच्छणस्यूं क्षेत्र में राजकीय इंटर कॉलेज बरसूड़ी, बाड़ा, टैठी, पित्रधार और खेड़ाखाल में बोर्ड परीक्षार्थी हैं, लेकिन इन पांच विद्यालयों में सिर्फ तीन को ही परीक्षा केंद्र बनाया गया है। जिससे जीआईसी टैठी और पित्रधार के बोर्ड परीक्षार्थियों को 3 से 7 किमी पैदल चलकर परीक्षा केंद्र बाड़ा और खेड़ाखाल की दौड़ लगानी पड़ रही है। इन हालातों में सुबह की पाली में परीक्षा देने वाले हाईस्कूल के परीक्षार्थियों के साथ अभिभावक भी आ रहे हैं, जबकि दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की परीक्षा के लिए परीक्षार्थी चटक धूप में पैदल रास्ता नाप रहे हैं।

उधर, गौंडार गांव के परीक्षार्थियों ने रांसी गांव में कमरे किराए पर ले रखे हैं। कालीमठ घाटी के चौमासी, चिलौंड, ब्यूंखी, कुणजेठी आदि गांवों के बच्चों को भी बोर्ड परीक्षा के लिए जीआईसी कोटमा पहुंचना पड़ रहा है। बोर्ड परीक्षार्थी ऋतिक, राहुल, कुलवीर, पंकज, बबीता, अंजली आदि ने बताया कि परीक्षा केंद्र अन्यत्र विद्यालय होने से उन्हें आवाजाही में दिक्कत हो रही है। इधर, मुख्य शिक्षाधिकारी वाईएस चौधरी ने बताया कि परीक्षार्थियों की संख्या के हिसाब से परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here