Saturday, December 3, 2022
Home पौड़ी गढ़वाल उत्तराखंड : पौड़ी के आयुष नेगी और कोटद्वार की सौम्या ढौंडियाल बने...

उत्तराखंड : पौड़ी के आयुष नेगी और कोटद्वार की सौम्या ढौंडियाल बने नौसेना में सब-लेफ्टिनेंट

गढ़वाल की बेटी सौम्या ढौंडियाल और पौड़ी के आयुष सिंह नेगी ने भारतीय नौसेना में सब लेफ्टिनेंट का नाम लेकर अपने परिवार और क्षेत्र का नाम रोशन किया है।

पौड़ी के मरोड़ा गांव  निवासी नौ सिपाही आयुष सिंह नेगी कमीशन मिलने के बाद सब-लेफ्टिनेंट बन गए हैं। आयुष के पिता नौसेना से जेसीओ के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं। अपने पिता से प्रेरित बेटे ने आज नौसेना अधिकारी बनने के अपने सपने को साकार किया है। बेटे की इस उपलब्धि से दादी, मां-पिता समेत पूरे गांव में खुशी की लहर है।

शनिवार को नौसेना के आईएनए इझिमला में 100वें बैच की पासिंग आउट परेड हुई, जिसमें पौड़ी जिले के पाबौ स्थित मरोड़ा गांव निवासीआयुष सिंह नेगी ने कमीशन प्राप्त कर सब-लेफ्टिनेंट का पद हासिल किया। आयुष का जन्म 21 जुलाई 1999 को दिल्ली में हुआ था। गोवा के केंद्रीय विद्यालय से प्राथमिक शिक्षा पूरी की।

हाई स्कूल वर्ष 2015 और इंटरमीडिएट 2017 में पोर्ट ब्लेयर से पास होने के बाद आयुष को नौसेना में चुना गया था। चार साल के प्रशिक्षण के बाद, आयुष ने 29 मई को आईएनए इज़हिमला में 100वें बैच की पासिंग आउट परेड में कमीशन प्राप्त किया। आयुष के पिता सेवानिवृत्त नौसेना जेसीओ सुरेंद्र सिंह नेगी, मां गृहिणी शकुंतला नेगी, दादी बूथ देवी हैं। उनके दादा बसंत सिंह का निधन हो गया है। आयुष की एक बहन निधि और एक अन्य बहन अंकिता हैं।

कोविड महामारी के कारण परिवार पासिंग आउट परेड का हिस्सा नहीं बन पाया। पिता जेसीओ सुरेंद्र सिंह नेगी सेनि. बताया कि आयुष ने बचपन से ही पढ़ाई में टॉप किया है। हमेशा से नेवी में ऑफिसर बनने का सपना देखा था, जिसे उन्होंने आज पूरा कर लिया है। कहा कि बेटे की उपलब्धि से पूरे देश में परिवार और क्षेत्र का मान बढ़ा है।

कोटद्वार की सौम्या ढुंडियाल बनीं नौसेना में सब लेफ्टिनेंट

कोटद्वार की बेटी सौम्या ढौंडियाल ने भारतीय नौसेना में सब लेफ्टिनेंट का नाम लेकर अपने परिवार और क्षेत्र का नाम रोशन किया है। सौम्या के नौ सेना अधिकारी बनने के बाद परिवार में खुशी का माहौल है।

कोटद्वार के कुंभीचौड निवासी सौम्या के पिता सुनील ढौंडियाल नौसेना के चीफ पेटी ऑफिसर के पद से सेवानिवृत्त हैं और मां सुषमा ढौंडियाल गृहिणी हैं. छोटी बहन सुचिता ढौंडियाल दिल्ली में मेडिकल की तैयारी कर रही है, जबकि छोटा भाई सुभिन ढौंडियाल 11वीं में पढ़ रहा है।

सौम्या के पिता सुनील ढौंडियाल ने बताया कि सौम्या बचपन से ही पढ़ने में होशियार थीं. उन्होंने अपनी नौकरी के दौरान प्राथमिक से 12वीं तक की पढ़ाई मुंबई, चेन्नई, अंडमान और निकोबार से की। उन्होंने बैंगलोर से बी.टेक किया है। इसके बाद उन्होंने नेवी में ऑफिसर बनने के लिए साल 2019 में परीक्षा पास की और एसएसबी में भी सफलता हासिल की।

लॉकडाउन के कारण बीच का प्रशिक्षण रोक दिया गया था, जिसके कारण उन्होंने दिसंबर 2020 में आईएनए इझीमला में प्रशिक्षण शुरू किया। शनिवार को, वह नौसेना के आईएनए इझीमला में नौसेना के 100वें बैच से पास आउट हुईं और नौसेना में सब लेफ्टिनेंट बन गईं। उन्होंने बताया कि सौम्या का बचपन से ही नौ सेना अधिकारी बनने का सपना था, जो आज पूरा हो गया है।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here