Tuesday, November 29, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड: कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी की फिसली जुबान, मुख्यमंत्री धामी को बताया...

उत्तराखंड: कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी की फिसली जुबान, मुख्यमंत्री धामी को बताया ‘पूर्व’ CM

जुबान फिसलने के मामले में अपने प्रदेश के नेताओं का कोई जवाब नहीं। पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत के बयानों पर देशभर में घमासान मचा रहा। कुछ दिन पहले कैबिनेट मंत्री धन सिंह रावत ऐप से बारिश कंट्रोल करने की बात कह रहे थे। इस बार कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी की जुबान फिसल गई।

मसूरी में शहीदों को श्रद्धांजलि देते वक्त जोशी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पूर्व मुख्यमंत्री बता दिया। गणेश जोशी की जुबान क्या फिसली, लोगों ने सोशल मीडिया पर मजे लेने शुरू कर दिए। कहने लगे कि उत्तराखंड में इतने सीएम बदले हैं कि हर जगह पूर्व ही नजर आते हैं। कार्यक्रम में गणेश जोशी को टोका गया तो अपनी झेंप मिटाने के लिए उन्होंने कहा कि- चलो कोई बात नहीं। 15-20 साल बाद धामी पूर्व मुख्यमंत्री हो जाएंगे। गणेश जोशी द्वारा पुष्कर सिंह धामी को पूर्व मुख्यमंत्री बताए जाने पर लोगों ने जोशी का जमकर मजाक उड़ाया।घटना उस वक्त हुई जब मसूरी में हुए कार्यक्रम में गणेश जोशी मंच पर बैठे लोगों का आभार व्यक्त कर रहे थे।

उनके सामने जनता थी, मंच पर गणमान्य लोग मौजूद थे।इस दौरान उन्होंने कहा कि मंच पर बैठे हमारे ओजस्वी ऊर्जावान और सैनिक पुत्र पूर्व मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी….कुछ सेकेंड बाद किसी ने उन्हें टोका तो गणेश जोशी झेंप गए। बाद में उन्होंने अपनी गलती सुधारते हुए कहा कि 15-20 साल बाद तो धामी पूर्व हो ही जाएंगे। मजे की बात ये है कि गणेश जोशी ने जिस वक्त मुख्यमंत्री को पूर्व सीएम कहा, उस वक्त मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के साथ रक्षा राज्य मंत्री अजय भट्ट और कई नेतागण मंच पर मौजूद थे। बयान के बाद लोगों ने गणेश जोशी पर तंज कसना भी शुरू कर दिया। वैसे ये पहला मौका नहीं है जब गणेश जोशी की जुबान फिसली हो। पिछले दिनों एक कार्यक्रम में उन्होंने विपक्ष को चोर-डकैत कह दिया था।

जुबान फिसलने के मामले में पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत भी पीछे नहीं हैं। वो अरविंद केजरीवाल को अर्बन नक्सल, गिरगिट और बहरूपिया तक कह चुके हैं। मंत्री धन सिंह रावत भी ऐप से बारिश कंट्रोल करने का दावा कर सोशल मीडिया पर फजीहत करा रहे हैं। वैसे ये पहला मौका नहीं है जब गणेश जोशी की जुबान फिसली हो। पिछले दिनों एक कार्यक्रम में उन्होंने विपक्ष को चोर-डकैत कह दिया था। जुबान फिसलने के मामले में पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत भी पीछे नहीं हैं। वो अरविंद केजरीवाल को अर्बन नक्सल, गिरगिट और बहरूपिया तक कह चुके हैं। मंत्री धन सिंह रावत भी ऐप से बारिश कंट्रोल करने का दावा कर सोशल मीडिया पर फजीहत करा रहे हैं। वैसे ज्ञान देने के मामले में केंद्रीय राज्य रक्षा मंत्री अजय भट्ट और कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत भी पीछे नहीं हैं। दोनों अपने काम के लिए कम बयानों के लिए ज्यादा सुर्खियों में रहते हैं।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here