Thursday, February 2, 2023
Home उत्तराखंड उत्तराखंड चुनाव 2022: दिखाई देने लगा मंत्रियों-विधायकों पर परफॉर्मेंस का दबाव, चुनाव से...

उत्तराखंड चुनाव 2022: दिखाई देने लगा मंत्रियों-विधायकों पर परफॉर्मेंस का दबाव, चुनाव से पहले आ रहा गुस्सा

उत्तराखंड में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं, सत्तारूढ़ भाजपा के मंत्रियों और विधायकों पर परफॉर्मेंस का दबाव साफ नजर आ रहा है। कहीं अफसरशाही की मनमानी के खिलाफ खुलकर नाराजगी दिख रही है तो कहीं अपनी ही पार्टी के नेताओं से विधायक की तकरार सामने आ रही है।

सियासी जानकारों का मानना है कि आने वाले दिनों में मंत्रियों और विधायकों पर यह दबाव और ज्यादा दिखाई देगा। कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, यशपाल आर्य, सुबोध उनियाल, हरक सिंह रावत और बंशीधर भगत से जुड़े कई बयान और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए, जिनमें वे अपने विभागों और जन सरोकारों से जुड़े मुद्दों को लेकर अफसरों को फटकार रहे हैं। हालात को बयां करती अमर उजाला की रिपोर्ट…

1. सतपाल महाराज : कैबिनेट मंत्री महाराज के अफसरों को फटकारते वीडियो वायरल हुए। देहरादून में एनएच मार्ग में खराब काम को लेकर वह अधिकारियों की जमकर क्लास लेते नजर आए तो यूएस नगर में एक अफसर को उन्होंने खुली बैठक में खूब फटकार लगाई।

2. सुबोध उनियाल : कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने पिछले दिनों राजकीय उद्यानों को पीपीपी मोड पर देने के प्रस्ताव में ढिलाई को लेकर अफसरों को अल्टीमेटम दिया कि 15 दिन में सुधार नहीं हुआ तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

3. यशपाल आर्य : सौम्य माने जाने वाले कैबिनेट यशपाल आर्य भी पिछले दिनों गुस्से में दिखे। उन्होंने नैनीताल में एक विभाग के अधिकारी को लापरवाही के लिए जमकर फटकार लगाई।

4. बंशीधर भगत : कैबिनेट मंत्री बंशीधर भगत भी ऊर्जा निगम के अधिकारियों के खिलाफ कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठ गए। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भगत के धरने में शामिल होने के बहाने सरकार पर तंज भी किया।

5. हरक सिंह : कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत ने पिछले दिनों विधानसभा टिहरी जिले के मसलों को लेकर विधानसभा एक बैठक बुलाई। तैयारी के साथ न आने पर उन्होंने अधिकारियों की जमकर क्लास ली और कहा कि वे दाल-भात खाने नहीं आए हैं।

6. रेखा आर्य : कैबिनेट मंत्री रेखा आर्य ने महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग की योजनाओं को लेकर अफसरशाही की हीलाहवाली को लेकर मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधू को पत्र लिखकर खुलकर नाराजगी जाहिर की।

7. विनोद चमोली : धर्मपुर से भाजपा विधायक विनोद चमोली सिस्टम के खिलाफ खुलकर नाराजगी जाहिर करते दिखाई दिए। दो दिन पहले चमोली अपने विधानसभा क्षेत्र में कुछ सड़कों के चौड़ीकरण के मामले में हो रही देरी से नाराज थे। सड़क निर्माण की मांग को लेकर कुछ लोग जब उनके आवास पर धरना देने पहुंचे तो चमोली भी उनके साथ बैठ गए। उन्होंने चेतावनी दी थी कि सड़क का प्रस्ताव मंजूर नहीं हुआ तो वे क्षेत्र के लोगों के साथ सचिवालय में धरना देंगे।

8. उमेश शर्मा काऊ : रायपुर से भाजपा विधायक उमेश शर्मा काऊ तो अपनी ही पार्टी के नेताओं से तकरार को लेकर चर्चाओं में हैं। पिछले दिनों कैबिनेट मंत्री धनसिंह रावत की उपस्थिति में काऊ की क्षेत्र के भाजपा नेता के साथ जमकर बहस हुई।

गुस्से जैसी कोई बात नहीं है। लोकतांत्रिक व्यवस्था में जनता की समस्या के प्रति जवाबदेही जनप्रतिनिधि की होती है। वे क्षेत्र की जन समस्या को लेकर हमेशा संवेदनशील रहते हैं।
– मदन कौशिक, प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा

लोकतंत्र की यही खूबसूरती है। हर व्यक्ति को अपने विचारों की छूट है। हर व्यक्ति अपने विचार बोलता है और पार्टी निर्णय लेती है। इसे नाराजगी या गुस्से के तौर पर नहीं देखना चाहिए। यह एक जनप्रतिनिधि की जनसरोकारों के प्रति संवेदनशीलता का परिचायक है।
– सुबोध उनियाल, शासकीय प्रवक्ता

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

अवैध शराब के कारोबार वालो पर रुद्रप्रयाग पुलिस कस रही है शिकंजा,9 अवैध पेटी...

0
एस0ओ0जी0 रुद्रप्रयाग और थाना गुप्तकाशी पुलिस द्वारा संयुक्त चेकिंग के दौरान 09 पेटी शराब के साथ एक अभियुक्त को किया गया गिरफ्तार नशे के...

Ropeway in Kedarnath: पहले चरण के लिए 900 करोड़ की लागत से काम शुरू

0
रुद्रप्रयाग: विश्व विख्यात केदारनाथ धाम आने वाले यात्रियों के लिये अच्छी खबर है. आगामी वर्षों में अब केदारनाथ धाम आने वाले यात्रियों को रोपवे...

मीडिया को देख रफूचक्कर हुए पुलकित के पिता विनोद आर्या

0
जनपद पौड़ी के अंतर्गत लक्ष्मण झूला थाना क्षेत्र के वनंतरा रिसार्ट में कार्यरत महिला कर्मचारी की हत्या के मामले में मुख्य आरोपित पुलकित आर्या पुलिस...

मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने की हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के क्षेत्र में...

0
मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु ने मंगलवार को सचिवालय में आयुष विभाग के अन्तर्गत प्रदेश में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के क्षेत्र में प्रगति...

देहरादून में 2 रूट पर दौड़ेगी वंदे मेट्रो, 23 स्टेशनों के बीच होगा सफर

0
देहरादून: हो सकता है कि देहरादून को वंदे मेट्रो की सौगात मिले। इसके संकेत कल पेश हुए बजट के बाद मिल रहे हैं। वित्त...