Tuesday, December 6, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड: जल्द शुरू होगा केदारनाथ पुनर्निर्माण के दूसरे चरण का काम, मुख्यमंत्री...

उत्तराखंड: जल्द शुरू होगा केदारनाथ पुनर्निर्माण के दूसरे चरण का काम, मुख्यमंत्री करेंगे निरीक्षण

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों और बद्रीनाथ धाम के मास्टर प्लान की समीक्षा की. केदारनाथ पुनर्निर्माण के तहत पर्यटन विभाग के पास दूसरे चरण के कार्यों के लिए 170 करोड़ रुपये उपलब्ध हैं। वहीं बद्रीनाथ धाम को स्प्रिचुअल हिल स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने के लिए तैयार मास्टर प्लान के अनुसार कार्यों की डीपीआर तैयार की जा रही है. जल्द ही मुख्यमंत्री केदारनाथ के पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण करेंगे.

मुख्यमंत्री ने गुरुवार को सचिवालय में केदारनाथ धाम में चल रहे निर्माण कार्यों और बद्रीनाथ धाम के मास्टर प्लान की प्रगति की समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने कहा कि वह जल्द ही केदारनाथ जाएंगे और निर्माण कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करेंगे. उन्होंने कहा कि बद्रीनाथ धाम के मास्टर प्लान के अनुसार केदारनाथ पुनर्निर्माण कार्य और विभिन्न निर्माण कार्यों में तेजी लाई जाए.

मुख्यमंत्री ने केदारनाथ की तरह बदरीनाथ मंदिर परिसर के सौंद्रयीकरण, रीवर फ्रंट, लेक फ्रंट डेवलपमेंट, एरावल प्लाजा आदि कार्यों की डीपीआर तैयार करने में भी शीघ्रता करने को कहा। उन्होंने निर्माण कार्यों में तेजी लाने के लिए लोक निर्माण विभाग का अलग से डिवीजन बनाने के निर्देश दिए।

सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर ने अवगत कराया कि केदारनाथ पुनर्निर्माण के लिए 170 करोड़ की धनराशि उपलब्ध है। जिसके कमांड एंड कंट्रोल रूम, क्यू मैनेजमेंट सिस्टम सेल्टर निर्माण, हास्पिटल विल्डिंग, संगम घाट पुनर्निर्माण, शंकराचार्य समाधि का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने बताया कि केदारनाथ के पुनर्निर्माण के द्वितीय चरण के कार्य भी शीघ्र शुरू किए जाएंगे।

सचिव पर्यटन ने बताया कि बद्रीनाथ धाम का मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है। इसके तहत किए जाने वाले कार्यों के लिए 250 करोड़ रुपये की फंडिंग का प्रावधान है. इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ. एसएस संधू, अपर मुख्य सचिव आनंद बर्धन, आयुक्त गढ़वाल रविनाथ रमन आदि उपस्थित थे.

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here