Tuesday, November 29, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड: खतरनाक हो सकती है कोरोना की तीसरी लहर, सीएम ने अधिकारियों...

उत्तराखंड: खतरनाक हो सकती है कोरोना की तीसरी लहर, सीएम ने अधिकारियों को दिए बड़े निर्देश

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शुक्रवार को सचिवालय में कोविड-19 महामारी और कोविड टीकाकरण की प्रगति को लेकर वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलों की समीक्षा की. मुख्यमंत्री ने सभी जिलों से कोविड महामारी के नियंत्रण और टीकाकरण की स्थिति की जानकारी ली. बैठक के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि संभावित तीसरी लहर को देखते हुए सभी व्यवस्थाएं पूरी की जाएं।

उन्होंने सभी जिलों की चिकित्सा इकाइयों में पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन बेड, आईसीयू बेड की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि कोविड की तीसरी लहर से पहले तैयारी के लिए दिए गए समय के दौरान सभी व्यवस्थाओं को मजबूत किया जाए।

बरसात के मौसम को देखते हुए आपदा की दृष्टि से चिन्हित संवेदनशील स्थानों के बीच एंबुलेंस की भी व्यवस्था की जाए। सीएचसी स्तर पर भी कोविड केयर सेंटर बनाया जाए। देहरादून और हल्द्वानी में ऑक्सीजन बेड, आईसीयू बेड और वेंटिलेटर की सुविधा को और बढ़ाना होगा. देहरादून और हल्द्वानी में कोविड के चरम पर मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने बच्चों के अनुसार दवा, मास्क व उपकरण आदि की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि आशा के माध्यम से जल्द से जल्द सप्लीमेंट, पोषाहार आदि का वितरण सुनिश्चित किया जाए। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में भी जांच की व्यवस्था की जाए।

माइक्रो कंटेनमेंट जोन और कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग को लगातार जारी रखा जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि टीकाकरण को और गति देने के लिए लोगों को लगातार प्रेरित किया जाए. निःशक्त व्यक्तियों और बुजुर्ग लोगों की पहचान की जानी चाहिए जिन्होंने अभी तक अपना टीकाकरण पूरा नहीं किया है। जिलाधिकारियों द्वारा उनके लिए शिविर लगाकर टीकाकरण किया जाए।

कोविड पर नियंत्रण के लिए लगातार जागरूकता अभियान चलाया जाए। इसमें स्थानीय हस्तियों और गणमान्य व्यक्तियों को शामिल करते हुए जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाने चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि टीकाकरण और अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए केंद्र सरकार की ओर से राज्य को हर संभव मदद मिल रही है. उन्होंने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी शुक्रिया अदा किया।

मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने भविष्य में लॉकडाउन खुलने के मद्देनज़र भीड़ बढ़ने की आशंका को देखते हुए सीमा पर टेस्टिंग आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिये. उन्होंने एंट्री प्वाइंट पर टेस्टिंग आदि की व्यवस्था की अद्यतन जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग और कोविड उपयुक्त व्यवहार के अनुपालन की व्यवस्था की जाए।

उन्होंने कहा कि आइवरमेक्टिन का वितरण 30 जून तक पूरा कर लिया जाए। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित किया जाए। मुख्य सचिव ने कहा कि टीकाकरण के लिए जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार शत्रुघ्न सिंह, डीजीपी अशोक कुमार, सचिव अमित नेगी, मुख्यमंत्री के विशेष कार्याधिकारी जे. सुंदरियाल, स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ. तृप्ति बहुगुणा, कुमाऊं आयुक्त अरविंद सिंह ह्यंकी, गढ़वाल आयुक्त रविनाथ रमन. वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलाधिकारी, एसएसपी व सीएमओ मौजूद रहे।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here