Tuesday, December 6, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड : राज्य में कोरोना की तीसरी लहर? 14 दिनों में 1618...

उत्तराखंड : राज्य में कोरोना की तीसरी लहर? 14 दिनों में 1618 बच्चे संक्रमित

कोरोना वायरस की दूसरी लहर बड़ों के अलावा बच्चों के लिए भी खतरनाक साबित हो रही है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चलते बुजुर्गों के साथ-साथ बच्चे भी बड़ी संख्या में आ रहे हैं।

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित बच्चों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। सवाल यह है कि क्या उत्तराखंड में कोरोना की तीसरी लहर आ गई है। देशभर के जानकारों का कहना है कि कोरोन की तीसरी लहर का सबसे ज्यादा असर बच्चों पर पड़ेगा, लेकिन उत्तराखंड में पहले से ही मामले सामने आ रहे हैं।

अपने बच्चों को गंभीर रूप से संक्रमित देखन उन्हें पीड़ा दे रहा है। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि हालात कितने गंभीर हैं पिछले दस दिनों के भीतर उत्तराखंड में करीब 1000 बच्चों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है. ये सभी बच्चे 9 साल से कम उम्र के हैं।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों में कोरोना संक्रमण से जुड़े आंकड़े जारी करते हुए कहा कि कुछ बच्चों को गंभीर हालत में अस्पतालों में भर्ती कराना पड़ रहा है।

विशेषज्ञ पहले ही कह चुके हैं कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के लिए सबसे खतरनाक होगी, लेकिन उत्तराखंड मैंने अभी से इसके गंभीर परिणाम दिखाना शुरू कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग के रिकॉर्ड पर नजर डालें तो पिछले एक साल में उत्तराखंड में कुल 2131 बच्चे कोविड-19 की चपेट में आए।

इस साल 1 अप्रैल से 15 अप्रैल के बीच 264 बच्चों का टेस्ट पॉजिटिव आया था। जबकि राज्य में 16 अप्रैल से 30 अप्रैल के बीच 1053 बच्चे कोरोना संक्रमित हुए. मई में यह आंकड़ा बढ़ा।

उत्तराखंड में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बच्चे भी पहले से ज्यादा संक्रमित हो रहे हैं. ऐसे में राज्य सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं. बच्चों को कोरोना के प्रकोप से बचाने के लिए तैयारियों में बदलाव जरूरी है।

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here