Sunday, November 27, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड : कांस्टेबल ने डीएम की गाड़ी रोकी तो खूब हुई तारीफ

उत्तराखंड : कांस्टेबल ने डीएम की गाड़ी रोकी तो खूब हुई तारीफ

अनलॉक में ढील के बाद नैनीताल में उमड़ी भीड़ को लेकर प्रशासन सतर्क है. सुरक्षा की कमान खुद डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने संभाली है। सैलानियों के लिए नई गाइडलाइन जारी होने के बाद शनिवार को डीएम खुद सड़कों पर उतरकर चेकिंग व्यवस्था का जायजा लिया. डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने निजी कार में सवार होकर शहर में व्यवस्थाओं का जायजा लिया। वह पुलिस की व्यवस्था से संतुष्ट नजर आए।

निरीक्षण के दौरान डीएम निजी कार से अस्थाई पार्किंग स्थल पर भी गए, जहां एक जवान ने उनकी गाड़ी रोक दी. पहले तो जवान ने गाड़ी में बैठे डीएम को नहीं पहचाना, लेकिन बाद में डीएम की मौजूदगी देखकर जवान ने बिना देर किए उन्हें सलामी दी. पुलिस के चेकिंग अभियान से डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल खुश नजर आए। शनिवार को वह आम आदमी बनकर शहर में पर्यटन संबंधी व्यवस्थाओं का जायजा लेने निकले थे।

उनके साथ उनका ड्राइवर भी था। डीएम ने रूसी बाइपास और नारायण नगर की अस्थायी पार्किंग से लेकर नैनीताल शहर तक की पर्यटन व्यवस्था का भी जायजा लिया. डीएम के नारायणनगर पहुंचते ही पुलिस कर्मियों ने उनकी गाड़ी रोक दी. डीएम ने लगन से काम करने वाले सिपाही का हौसला बढ़ाया। अभियान से लौटने के बाद डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल ने बताया कि वह नई व्यवस्था से संतुष्ट हैं.

इसमें लगातार सुधार किया जाएगा ताकि नैनीताल पहुंचने वाले किसी भी पर्यटक को किसी प्रकार की परेशानी न हो। आपको बता दें कि नैनीताल में एंट्री के लिए होटल बुकिंग, RTPCR और देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर दिया गया है. शहर में स्कूटी और बाइक की एंट्री बंद है। शनिवार को पुलिस ने नियमों की अनदेखी करने वाले 1200 से अधिक पर्यटकों को लौटा दिया। नई योजना के धरातल पर उतरने के बाद जाम समेत कई समस्याओं से शहर को राहत भी मिली है.

Hill Livehttps://hilllive.in
Hilllive.in पर उत्तराखंड के नवीनतम और ब्रेकिंग हिंदी समाचार पढ़ें।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here